Home Life & Culture दुनिया का पहला घर, जिसे बनाया नहीं प्रिंट किया गया है, वह...

दुनिया का पहला घर, जिसे बनाया नहीं प्रिंट किया गया है, वह भी मात्र 24 घंटे में

0

घर बनाना काफी समय लेने वाला काम है, हफ़्तों महीनों तक चलता रहता है तब कहीं जाकर घर तैयार होता है. कितना अच्छा हो यदि आप आज घर बनाने का सोचें और कल वह बनकर तैयार हो जाए ! तो अब सोचने की जरूरत नहीं क्योंकि तुरतफुरत घर बनाने वाली जादुई टेक्नोलॉजी आ गई है और पहला घर बनकर तैयार भी हो गया है. 

सेन फ्रांसिस्को की एक कंपनी Apis Cor. ने मात्र 24 घंटे में 400 वर्गफीट का एक पूर्णतः सुसज्जित घर हाल ही में बनाकर दिखा दिया है.

यह घर रूस में बनाया गया है और इसे बनाने में लागत आई है करीब 11 हजार डॉलर, जो कि सामान्य तरीकों से घर बनाने की तुलना में काफी कम है. 

अब आप सोच रहे होंगे कि इतने कम समय में और इतने सस्ते में यह घर आखिर कैसे बन गया ? तो आपको बता दें कि यह घर बनाया नहीं, प्रिंट किया गया है.

जी हाँ, Apis ने यह घर परंपरागत तरीकों से नहीं बनाया है बल्कि 3D Printer से प्रिंट किया है. इसे बनाने के लिए सीमेंट और कंक्रीट के मिक्सचर को इंक के रूप में इस्तेमाल किया गया है. 

Apis Cor. कंपनी को 3D प्रिंटिंग में विशेषज्ञता हासिल है. यह घर बनाने में उन्हें मात्र 24 घंटे लगे.

इसके लिए मोबाइल 3D कंस्ट्रक्शन प्रिंटर का इस्तेमाल किया गया.

यह घर इतना मजबूत है कि यह करीब 175 सालों तक चलेगा.

और सबसे बड़ी बात यह कि यह बेहद सस्ता है.

इस तकनीक से दुनिया में बेघर लोगों के लिए सस्ते और द्रुत गति से आवास निर्मित किये जा सकेंगे. 

जय हो विज्ञान की !


(Story Source : BoredPanda)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here