10 किलो का बम कंधे पर रखकर 1 किमी तक भागे अभिषेक...

10 किलो का बम कंधे पर रखकर 1 किमी तक भागे अभिषेक ताकि 400 बच्चों की जान बच सके

0
SHARE

मध्यप्रदेश के एक पुलिसवाले ने जो काम किया है उसे जान कर आप उसे तहेदिल से सलाम करेंगे.

मध्यप्रदेश के सागर जिले में चितौरा गाँव के एक स्कूल के पास बच्चों ने सेना का एक पुराना बम देखा. इसकी सूचना तुरंत पुलिस को दी गई. पुलिस पहुंची लेकिन उसी समय घबराए स्कूल प्रबंधन ने बच्चों की छुट्टी कर दी. छुट्टी होने पर बच्चे बम के आसपास से होकर गुजर रहे थे.

कोई अनहोनी न हो जाए और बच्चों की जान को खतरा न हो इसलिए पुलिस पार्टी में शामिल हेड कांस्टेबल अभिषेक पटेल ने अभूतपूर्व साहस का परिचय देते हुए बम को कंधे पर उठाया और सुनसान मैदान की ओर दौड़ लगा दी. वे 10 किलो वजनी बम को लेकर करीब 1 किमी तक भागे और फिर बम को सुनसान जगह पर रख दिया.

दरअसल अभिषेक को ट्रेनिंग के दौरान बताया गया था कि इस तरह का बम यदि फट जाए तो करीब 500 मीटर के क्षेत्र में नुक्सान पहुंचा सकता है. इसीलिए वे उसे कम से कम इतनी दूर ले जाना चाहते थे कि यदि फट भी जाए तो बच्चों को कोई खतरा न हो.

बाद में बम निरोधक दस्ता पहुंचा जिसने बम को defuse कर दिया. हेड कांस्टेबल अभिषेक के इस साहसपूर्ण काम का किसी ने वीडियो बना लिया जो वायरल हो गया. जिसने भी सुना उसने अभिषेक के साहस और अपनी जान जोखिम में डालकर भी बच्चों की जान बचा लेने की सोच की सराहना की.

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने उनकी बहादुरी के लिए उन्हें भोपाल बुलाकर न केवल सम्मानित किया बल्कि पचास हजार रुपये का इनाम भी दिया.

अभिषेक जैसे पुलिसवालों पर हमें गर्व है. देखिये उनकी बहादुरी का वीडियो …


 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY