अहसानमंद रहूँगा

अहसानमंद रहूँगा

0
SHARE

एक अमीर आदमी अपने प्यारे डॉगी के साथ गार्डन में  मॉर्निंग वाक कर रहा था. तभी अचानक झाड़ियों के पीछे से हाथ में रिवाल्वर लिए एक नकाबपोश निकला और उसने कुत्ते के ऊपर ताबड़तोड़ गोलियां चला कर उसे ढेर कर दिया लेकिन अमीर आदमी को कुछ नहीं किया.

आदमी को बहुत अजीब लगा …. उसने नकाबपोश से पूछा – “ये क्या किया भाई ?”

नकाबपोश बोला – “your wife gave me one lac rupee and said ‘Go & Kill that son-of-a-bitch…”

अमीर आदमी ने नकाबपोश को बांहों में भर लिया और उसे धन्यवाद देते हुए बोला – “भाई, मैं यह तो नहीं जानता कि तुम्हारा अंग्रेजी टीचर कौन था लेकिन जो भी था मैं उसका हमेशा अहसानमंद रहूँगा … !!!”

smiley-man-laughing

 

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY