नोटबंदी पर बुजुर्ग कवि ‘भयंकर’ की ये कविता सुन लो, दिन बन...

नोटबंदी पर बुजुर्ग कवि ‘भयंकर’ की ये कविता सुन लो, दिन बन जाएगा

0
SHARE

एक बुजुर्ग कवि हैं भानुप्रताप ‘भयंकर’, उन्होंने कहीं एक नुक्कड़ पर बैठकर नोटबंदी पर अवधी में ये भयंकर कविता सुनाई है जो वायरल हो गई है.

वीडियो देखने के पहले कविता की कुछ लाइनें पढ़ लीजिये –

वाह रे मोदी की सरकार
देश में नोट के आपातकाल
ज्यादा दुखी केजरीवाल
मोदी मारिन अच्छा छक्का
भईन सोनिया हक्का बक्का
ई मोदी की चलै न चाल
जनता का हाल बेहाल
देश की जनता करे पुकार
वाह रे मोदी सरकार!

अब देख लीजिये पूरा वीडियो –

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY