छात्र परीक्षा देने आ गए तब याद आया कि पेपर तो छपवाए...

छात्र परीक्षा देने आ गए तब याद आया कि पेपर तो छपवाए ही नहीं, बिहार की यूनिवर्सिटी का कारनामा

0
SHARE

बिहार की तिलका मांझी भागलपुर यूनिवर्सिटी से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहाँ गत मंगलवार को एम.ए. हिंदी के दूसरे सेमेस्टर की परीक्षा आयोजित की गई थी पर 94 छात्रों को बिना परीक्षा दिए ही वापस लौटना पड़ा क्योंकि यूनिवर्सिटी प्रश्नपत्र छपवाना ही भूल गई थी.

ज्ञातव्य है कि परीक्षा की तिथि का निर्धारण मार्च के दूसरे सप्ताह में ही कर दिया गया था, और इस सेमेस्टर के कुछ पेपर पहले ही हो चुके थे. आखिरी पेपर के नियत दिवस को प्रश्नपत्र उपलब्ध नहीं हो पाए क्योंकि छपवाने के लिए भेजे ही नहीं गए थे.

प्रतीकात्मक चित्र

अब जैसा कि लापरवाही के इस तरह के मामलों में हमेशा होता है, एक दूसरे पर दोष मढ़ने की प्रक्रिया चालू हो गई है. कुलपति ने संबंधितों को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिए हैं और इस प्रश्नपत्र की परीक्षा के लिए अगली तिथि 22 अप्रैल निर्धारित कर दी गई है.

हालांकि सरकारी तंत्र की लापरवाही का ये न तो इस देश में पहला मामला है और न ही आखिरी, परन्तु इस तरह की घटनाएं सरकारी कर्मचारियों के कामकाज के तरीके पर सवालिया निशान तो उठाती ही हैं.


(News : Jagran)

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY