Home Entertainment बॉलीवुड के हीमैन, जिन्हें अपनी पहली फिल्म के लिए इतने रुपये मिले...

बॉलीवुड के हीमैन, जिन्हें अपनी पहली फिल्म के लिए इतने रुपये मिले थे जितने में आज सिनेमा का टिकट भी नहीं आता

0

धर्मेन्द्र बॉलीवुड के उन अभिनेताओं में से एक हैं जिन्होंने अपने अभिनय के दम पर दशकों तक लोगों के दिलों पर राज किया है. उनके नाम कुछ ऐसी फ़िल्में दर्ज हैं जिनके लिए हिंदी सिनेमा के इतिहास में उनका स्थान हमेशा के लिए सुरक्षित हो गया है. आज उनके जन्मदिन के अवसर पर आइये जानते हैं उनके बारे में कुछ दिलचस्प बातें –

धर्मेन्द्र का जन्म एक पंजाबी जाट परिवार में 8 दिसम्बर 1935 को लुधियाना के नसराली गाँव में हुआ था. उनके पिता का नाम केवल किशन सिंह देओल और माता का नाम सतवंत कौर था.

फिल्मों में आने के पहले धर्मेन्द्र की रेलवे में क्लर्क की नौकरी लग गई थी. हालांकि वे हमेशा एक्टर बनने का सपना देखते थे.

धर्मेन्द्र ने फिल्मफेयर मैगज़ीन का टैलेंट हंट जीता और इसके बाद वे फिल्मों में काम करने का सपना लेकर मुंबई चले आये. मुंबई में उन्हें बहुत संघर्ष करना पड़ा. कई बार तो वे मात्र चने खाकर बेंच पर सोये.

धर्मेन्द्र को पहला ब्रेक दिया अर्जुन हिंगोरानी ने. फिल्म का नाम था ‘दिल भी तेरा हम भी तेरे’. ये धर्मेन्द्र की पहली फिल्म थी जो 1960 में आई थी. कहते हैं इस फिल्म में काम करने के एवज में धर्मेन्द्र को मात्र 51 रुपये मिले थे.

धर्मेन्द्र की पहली फिल्म ख़ास कामयाब नहीं रही और उनके संघर्ष का अंत नहीं हुआ. उनकी पहली बड़ी हिट आई 1966 में जिसका नाम था ‘फूल और पत्थर’. धर्मेन्द्र बॉलीवुड के ऐसे पहले हीरो थे जो इस फिल्म में शर्टलेस हुए थे. हालांकि उस जमाने में इसके लिए उन्हें आलोचना भी झेलनी पड़ी.

‘फूल और पत्थर’ के बाद धर्मेन्द्र का करियर चल निकला और फिर तो उनके खाते में ऐसी ऐसी हिट फ़िल्में आईं कि लोग देखते रह गए.

धर्मेन्द्र फिल्मों में आने से पहले से शादीशुदा थे लेकिन हेमामालिनी के साथ उनका अफेयर चला और उन्होंने एक दिन उनसे शादी भी कर ली. हेमामालिनी से उन्हें दो बेटियाँ हैं.

1991 में धर्मेन्द्र ने अपने पुत्र सनी देओल की फिल्म ‘घायल’ को प्रोड्यूस किया जिसके लिए फिल्म फेयर अवार्ड प्राप्त हुआ. साल 2012 में धर्मेन्द्र को सरकार ने पद्मभूषण से सम्मानित किया.

धर्मेन्द्र ने राजनीति में भी हाथ आजमाया. वे 14वीं लोकसभा में बीकानेर से सांसद रहे.

आज धर्मेन्द्र 82 साल के हो चुके हैं लेकिन अब भी उनमें ऊर्जा की कोई कमी नहीं है. वे अपने बेटों के साथ अब भी फिल्मों में सक्रिय हैं.

Subscribe our YouTube channel -