Doctor-Patient Hindi Jokes

बल्ब

एक मनोचिकित्सक जब अपने क्लीनिक पहुंचा तो उसने वहां दो मरीजों को पाया। एक छत से उल्टा लटका हुआ था जबकि दूसरा ऐसा अभिनय कर रहा था कि जैसे वह कुल्हाड़ी से लकड़ियां काट रहा हो।

डॉक्टर ने अभिनय करने वाले से पूछा – यह आदमी उल्टा क्यों लटका हुआ है ?

उसने हंसते हुए बताया – वह बेवकूफ समझता है कि वह बल्ब है।

डॉक्टर बोला – तुम उसे फौरन नीचे उतारो।

आदमी – उसे नीचे उतार दूं तो फिर मैं क्या अंधेरे में लकड़ियां काटूंगा …..?

Sent By : Roop C., Agra.

Gift of God

मरीज – डॉक्टर साहब, मुझे एक अजीब सी बीमारी हो गई है। जब मेरी बीबी बोलती है तो मुझे कुछ सुनाई नहीं देता है.

(more…)

पहली भेंट

नए-नए डॉक्टर ने अपने जीवन का पहला ऑपरेशन किया। ऑपरेशन के थोड़ी देर बाद ही मरीज मर गया ।

डॉक्टर ने दीवार पर टंगी भगवान की तस्वीर की ओर हाथ जोड़कर सिर झुकाते हुए पूरी श्रध्दा से कहा – हे प्रभु, मेरी ओर से यह पहली भेंट स्वीकार कीजिए ……

Sent By : Sanjeev Tyagi, FBD

दिल का डॉक्टर

90 वर्षीय एक सज्जन की दस करोड़ की लाटरी लग गई। इतनी बड़ी खबर सुनकर कहीं दादाजी खुशी से मर न जाएं, यह सोचकर उनके घरवालों ने उन्हें तुरंत जानकारी नहीं दी। सबने तय किया कि पहले एक डॉक्टर को बुलवाया जाए फिर उसकी मौजूदगी में उन्हें यह समाचार दिया जाए ताकि दिल का दौरा पड़ने की हालत में वह स्थिति को संभाल सके।

शहर के जानेमाने दिल के डॉक्टर से संपर्क किया गया । डॉक्टर साहब ने घरवालों को आश्वस्त किया – आप लोग चिंता मत करें । दादाजी को यह समाचार मैं खुद दूंगा । उन्हें कुछ नहीं होगा, मेरी गारंटी है।

डॉक्टर साहब दादाजी के पास गए । कुछ देर इधर – उधर की बातें कीं फिर बोले – दादाजी, मैं आपको एक शुभ समाचार देना चाहता हूं। आपके नाम दस करोड़ की लाटरी निकली हैं।

दादाजी बोले – अच्छा ! लेकिन मैं इस उमर में इतने पैसों का क्या करूंगा । पर अब तूने यह खबर सुनाई है तो जा, आधी रकम मैंने तुझे दी।

डॉक्टर साहब धम् से जमीन पर गिरे और उनके प्राण पखेरू उड़ गए । 

Sent By : Anshu Purabia, Lucknow.

दवाई

मरीज : डॉक्टर साहब, क्या कोई ऐसी दवाई नहीं बनी है कि मैं मर भी जाऊं तो बाद में जीवित हो जाऊं ?

डॉक्टर : दवाई तो नहीं बनी है, पर आप एकता कपूर से कान्टेक्ट कर सकते हैं ।

Sent By : Rajesh Ahirwar, Bhopal.

प्रोफेशनल

एक डॉक्टर साहब एक पार्टी में गए । अपने बीच शहर के एक प्रतिष्ठित डॉक्टर को पाकर लोगों ने उन्हें घेर लिया। किसी को जुकाम था तो किसी के पेट में गैस। सभी मुफ्त की राय लेने के चक्कर में थे। शिष्टाचारवश डॉक्टर साहब किसी को मना नहीं कर पा रहे थे।

उसी पार्टी में शहर के एक नामी वकील भी आए हुए थे। मौका मिलते ही डॉक्टर साहब वकील साहब के पास पहुंचे और उन्हें एक ओर ले जाकर बोले – यार ! मैं तो परेशान हो गया हूं। सभी फ्री में इलाज कराने के चक्कर में हैं। तुम्हें भी ऐसे लोग मिलते हैं क्या ?

वकील साहब – बहुत मिलते हैं ।

डॉक्टर साहब – तो फिर उनसे कैसे निपटते हो ?

वकील साहब – बिलकुल सीधा तरीका है । मैं उन्हें सलाह देता हूं जैसा कि वो चाहते हैं। बाद में उनके घर बिल भिजवा देता हूं।

यह बात डॉक्टर साहब को कुछ जम गई । अगले रोज उन्होंने भी पार्टी में मिले कुछ लोगों के नाम बिल बनाए और उन्हें भिजवाने ही वाले थे कि तभी उनका नौकर अन्दर आया और बोला – साहब, कोई आपसे मिलना चाहता है ।

डॉक्टर साहब – कौन है ?

नौकर – वकील साहब का चपरासी है । कहता है कल रात पार्टी में आपने वकील साहब से जो राय ली थी उसका बिल लाया है …….

Sent By : Harish Tyagi,Tatanagar.

वहीं से

मनोचिकित्सक बंता खत्री, मानसिक रोगी संता मजूमदार की जांच कर रहे थे।

डा. बंता – मान लो, इस वक्त यदि एक रेलगाड़ी तुम्हारी तरफ तेजी से आ रही हो, तो तुम क्या करोगे ?

संता – मैं अपने हेलीकॉप्टर में बैठूंगा और फुर्र से उड़ जाऊंगा ।

डा. बंता – तुम्हारे पास हेलीकॉप्टर कहां से आएगा ?

संता – वहीं से, जहां से तुम्हारी रेलगाड़ी आएगी ……………. !

Sent By : Jagdeesh, Jodhpur (Rajasthan)

एकदम कोरा

एक सज्जन एक अत्याधुनिक हॉस्पीटल में पहुंचे जहां मस्तिष्क प्रत्यारोपित किए जाते थे। उसने वहां के डॉक्टर से आदमी के दिमाग की कीमत पूछी।
डॉक्टर ने बताया – आम आदमी के दिमाग की कीमत 1 लाख रुपए है। वैज्ञानिक के दिमाग की कीमत है 5 लाख रुपए और नेता के दिमाग की 10 लाख रुपए।
नेता के दिमाग की कीमत इतनी ज्यादा क्यों ?  आदमी ने पूछा।
एकदम कोरा जो रखा है, कभी इस्तेमाल ही नहीं किया गया! – डॉक्टर ने जवाब दिया।

बुढ़ापे की निशानी

पहला दोस्त – तुम्हारी बीबी के दांतों का दर्द ठीक हुआ कि नहीं ?
दूसरा दोस्त – हां, डॉक्टर को दिखाते ही ठीक हो गया।
पहले दोस्त ने हैरानी से पूछा – अच्छा, कौन सी दवा से ?
दूसरे दोस्त ने बताया – दवा वगैरा कुछ नहीं। बस, डॉक्टर ने बताया कि यह बुढ़ापे की निशानी है, और उस दिन के बाद उसने दर्द की शिकायत ही नहीं की।

asambhav

एक 80 वर्ष के वृद्व ने एक युवती से विवाह कर लिया। कुछ समय बाद वह डॉक्टर के पास गया और उससे कहा कि उसे लगता है कि वह बाप बनने वाला है।
डॉक्टर ने कहा “मैं आपको एक कहानी सुनाना चाहता हूं । एक भुलक्कड़ सा शिकारी शिकार के लिए जंगल में गया। वहां एकाएक उसके सामने एक शेर आ गया। उसने अपनी बन्दूक निकाली और पाया कि वह बन्दूक के बदले छाता ले कर आ गया है। लेकिन कुछ और न कर पाने की वजह से उसने छाते को ही शेर की तरफ तानते हुए बटन दबा दी। ‘धांय’ सी आवाज़ हुई और शेर मर गया।”
“असम्भव”। वृद्व व्यक्ति ने कहा “ज़रूर किसी ने बगल से गोली चलायी होगी।”
डॉक्टर ने कहा “बिलकुल सही।”

Sent By : Alka Shrivastava, Lucknow.