मार ही डाल मुझे – Momin Khan ‘Momin’

मार ही डाल मुझे – Momin Khan ‘Momin’

0
SHARE

मार ही डाल मुझे चश्म-ए-अदा से पहले
अपनी मंजिल को पहुँच जाऊँ कज़ा से पहले 
(क़ज़ा – death)

इक नज़र देख लूँ आ जाओ कज़ा से पहले
तुमसे मिलने की तमन्ना है खुदा से पहले

हश्र के रोज़ मैं पूछूँगा खुदा से पहले
तुमने  रोका नहीं क्यूँ मुझको खता से पहले
(हश्र – Day of judgement)

ऐ मेरी मौत ठहर उनको ज़रा आने दे
ज़हर का जाम न दे मुझको दवा से पहले

हाथ पहुँचे भी न थे ज़ुल्फ़ दोता तक ‘मोमिन’
हथकड़ी डाल दी ज़ालिम ने खता से पहले
(दोता – bent)

– मोमिन खान ‘मोमिन’

——————————

Maar hee daal mujhe chashm-e-adaa se pahle
apni manzil ko pahunch jaauun kazaa se pahle

ik nazar dekh loon aa jaao kazaa se pahle
tumse milne kee tamanna hai khuda se pahle

hashra ke roz mai puuchhuunga khuda se pahle
tumne rokaa nahi kyun mujhko khataa se pahle

ai meri maut thahar unko zaraa aane de
zahar kaa jaam na de mujhko davaa se pahle

haath pahunche bhi na they zulf dotaa tak ‘Momin’
hathkadii daal dee zaalim ne khataa se pahle

– Momin Khan ‘Momin’

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY