अनाथ लड़की ने डीएम को किया मेसेज, “सर, ईद मनाने में मेरी...

अनाथ लड़की ने डीएम को किया मेसेज, “सर, ईद मनाने में मेरी मदद करें …” और फिर डीएम ने जो किया उसके लिए सौ सलाम भी कम हैं

0
SHARE

“डीएम सर, नमस्ते, मेरा नाम शबाना है. मुझे आपकी थोड़ी सी हेल्प की जरूरत है. सर सबसे बड़ा त्यौहार ईद है. सब लोग नए कपडे पहनेंगे पर हमारे परिवार में किसी का भी नया कपडा नहीं आया है. सर मेरे माता पिता नहीं है. 2004 में एक्सपायर हो चुके हैं. मेरे घर में मैं और मेरी नानी और छोटा भाई है ….”

ये मेसेज वाराणसी के शिवदासपुर की रहने वाली बिना मां-बाप की शबाना ने जिलाधिकारी योगेश्वर राम मिश्र को उनके मोबाइल पर रविवार दोपहर भेजा. मैसेज पढ़ते ही जिलाधिकारी ने शबाना को ईदी देने का निश्चय कर लिया.
उन्होंने उप जिलाधिकारी सदर को बुलाकर शबाना के परिवार की मदद करने के निर्देश दिए. डीएम साहब ने अपने पास से शबाना, उसकी नानी व छोटे भाई को नए कपड़े, मिठाई और सेवईं के लिए रुपये दिए.
जिस मोबाइल नंबर से शबाना ने डीएम को मेसेज किया था उसकी लोकेशन ट्रेस करवाई गई और उप जिलाधिकारी महोदय शबाना और उसके परिवार के लिए ईदी लेकर पहुँच गए. वे अपने साथ शबाना के लिए सलवार-सूट, उसकी नानी के लिए साड़ी एवं उसके छोटे भाई के लिए जींस का पैंट और टीशर्ट तथा मिठाईयां ले गये थे.
शबाना ने जब यह देखा तो उसके आँसू छलक पड़े क्योंकि उसे विश्वास ही नहीं हो रहा था कि उसके मेसेज की वजह से ये सब हुआ है. अधिकारियों को शबाना के घर देख आसपास के लोग भी आ गए. जब उन्हें पूरी बात का पता चला तो सब लोगों ने डीएम साहब के इस मानवतापूर्ण कार्य के लिए बहुत तारीफ़ की.
उधर शबाना की नानी, उनकी तो डीएम साहब और प्रशासन को दुआएं देते जुबान ही नहीं थक रही थी.

(Source : LiveHindustan)

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY