Home News इंजीनियरिंग छात्र ने फ्लाइट में बॉल पेन के स्प्रिंग से बचाई एक...

इंजीनियरिंग छात्र ने फ्लाइट में बॉल पेन के स्प्रिंग से बचाई एक डायबिटीज़ मरीज की जान…

0

ये खबर सुनने में थोड़ी अजीब जरुर लगेगी पर एक इंजीनियर ने अपनी सूझ-बूझ से फ्लाइट में जिन्दगी और मौत से जूझ रहे एक शख्स की मदद की. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आई. आई. टी.) कानपुर के इलेक्ट्रिकल ब्रांच के एक छात्र कार्तिकेय मंगलम ने जिनेवा से नई दिल्ली लौटते समय फ्लाइट में डायबिटीज़ के मरीज़ की जान बचाई.

दरअसल सफ़र के दौरान फ्लाइट में डायबिटीज़ मरीज अपना इन्सुलिन पंप लाना भूल गया था करीब पाँच घंटे से इन्सुलिन का डोज़ न लेने के कारण उसकी ब्लड शुगर का स्तर काफी हद तक बढ़ गया था. हालांकि मरीज के पास इन्सुलिन कर्टरिज़ तो मौजूद था पर ऐसा कोई डिवाइस नहीं था जिसके द्वारा उसे शरीर में इंजेक्ट कर सकें.

जब फ्लाइट में मौजूद एक डॉक्टर को बुलाया गया तो उन्होंने अपने इन्सुलिन पेन के जरिए डोज़ देने की कोशिश की पर दिक्कत यह थी कि उनके पेन पर उस मरीज का इन्सुलिन कर्टरिज़ फिट नहीं आ रहा था. ऐसी स्थिति में फ्लाइट की आपातकालीन लैंडिंग होने वाली थी. तभी वहाँ मौजूद 21 वर्षीय कार्तिकेय ने एक वैकल्पिक उपाय करने का सुझाव दिया जिससे नीदरलेंड्स निवासी उस शख्स की मदद की जा सके.

कार्तिकेय ने हवाई जहाज के वाई-फाई का प्रयोग कर इंजीनियरिंग ड्राइंग द्वारा इन्सुलिन पेन का एक डायग्राम बनाया जिससे उसे समझ आया कि डॉक्टर के इन्सुलिन पेन में एक स्प्रिंग की कमी है. इसके बाद सह-यात्रिओं से बॉल पेन का स्प्रिंग मांगकर डॉक्टर ने अपने डिवाइस में लगाया और फिर उस मरीज को डोज़ दिया गया जिससे उसकी जान बच गई.

जब फ्लाइट दिल्ली में लैंड हुई तो उस मरीज को सामान्य चेक-अप के लिए हॉस्पिटल ले जाया गया. जाते समय उस शख्स ने कार्तिकेय को धन्यवाद कहा और एम्स्टर्डम स्थित अपने रेस्टोरेंट में आने का न्योता भी दिया.

(Source)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here