Home News नेहरु खानदान की सबसे पहली विदेशी बहू का 109 साल की आयु...

नेहरु खानदान की सबसे पहली विदेशी बहू का 109 साल की आयु में निधन

0

नेहरू खानदान की सबसे पहली विदेशी बहू का हिमाचल प्रदेश के कसौली में 109 वर्ष की आयु में 25 अप्रैल को निधन हो गया. इनका नाम शोभा नेहरू था और वे भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू के चचेरे भाई ब्रिज कुमार नेहरु की पत्नी थीं.

1908 में जन्मीं शोभा मूल रूप से हंगरी की रहने वाली यहूदी महिला थीं. उनका मूल नाम मगडॉलना फ्रायडमैन था. वे दुनिया में सबसे बुजुर्ग यहूदी महिला भी थीं. अपने लम्बे जीवन में उन्होंने दो विश्वयुद्ध, भारत पाकिस्तान का बंटवारा और बाद का नरसंहार भी देखा. वे हिमाचल प्रदेश के कसौली में स्थित अपने बंगले में रहती थीं जिसे उनके पति ने उनके लिए बनवाया था.

शोभा जवाहर लाल नेहरू के ताऊ के परिवार की बहू थीं. उनकी शादी मोतीलाल नेहरू के बड़े भाई नंदलाल नेहरू के बेटे ब्रज कुमार नेहरू से 1935 में हुई थी. दोनों की मुलाक़ात ऑक्सफ़ोर्ड यूनिवर्सिटी में हुई थी.

शोभा के पति ब्रिज कुमार नेहरू आजाद भारत के सबसे प्रतिष्ठित नौकरशाह और ट्रिब्यूनल ट्रस्ट ऑफ पब्लिकेशंस के पूर्व ट्रस्टी थे.    वे पहले राजनयिक  और      बाद में गवर्नर रहे. उनका निधन 31 अक्टूबर, 2001 को 92 वर्ष की उम्र में हुआ था.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार शोभा नेहरू से सोनिया और राहुल गाँधी के अच्छे ताल्लुकात थे और दोनों अक्सर उनसे मिलने कसौली जाते थे. राहुल गांधी आखिरी बार मई 2016 में उनसे मिलने पहुंचे थे.

 

Subscribe our YouTube channel -