ऐ दोस्त

ऐ दोस्त

2
SHARE

ऐ दोस्त तू भी लिखाकर शायरी,

मेरी तरह तेरा भी नाम हो जायेगा,

जब तुझ पर भी पड़ेंगे अंडे-टमाटर

तो शाम की सब्जी का इंतजाम हो जायेगा.

Sent By : Bhavik Kala

 

SHARE
Previous articleअंतर
Next articleEverything BUT

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY