SMS

SMS

5
SHARE

गर्दिश-ए-गम से नूर नहीं आयेगा,

गम-ए-तौहीन से सुकून नहीं आयेगा,

मशगूल होके मकबूल की किस्मत-ए-काफिर,

दिमाग फट जायेगा पर …

ये SMS समझ नहीं आयेगा !

Sent By : Ashwini, Gwalior.

 

5 COMMENTS

LEAVE A REPLY