बहादुरी

बहादुरी

4
SHARE

बहादुरी क्या है ???

सुबह से

देर रात तक

दोस्तों के साथ

पार्टी करके घर आओ

और माँ दरवाज़े पर झाड़ू लेकर मिलें

और  तुम पूछो – “क्या माँ ! अब तक झाडू लगा रही हो ?”

Sent By : Ashwin, Gwalior.

 

4 COMMENTS

  1. दर्द की दास्तान अभी बाकी है !
    मुहब्बत का इन्तिहाम अभी बाकी है !
    दिल करे तो बफा करने आ जाना !
    दिल ही तो टुटा है जान अभी बाकी है !

  2. एक बार एक बस में लडको और लडकियों के बिच अन्ताक्षरी शुरू हो गयी. लड़कियां बड़े जोश से बोली,”आज तो हम तुम्हे हरके दिखायेंगे!”

    लड़के भी बोल पड़े,”लो हम हार गए. अब दिखाओ.”

LEAVE A REPLY