चमकते रहो …

चमकते रहो …

2
SHARE

सारी दुनिया का अँधेरा मिलकर भी एक  दीपक  से उसकी रौशनी नहीं छीन सकता. इसलिए ……. चमकते रहो !

 

2 COMMENTS

  1. दीपक से विपरीत दिशा में जाओगे तो छाया हाथ नहीं आती और साथ ही साथ छोटी भी हो जाती है, जबकि दीपक की तरफ बढोगे तो छाया बड़ी होने के साथ साथ तुम्हारे पीछे भी आएगी. छाया और माया में कोई फर्क नहीं है, बात समझने की है और इशारे में कही जाती है.

  2. दीपक हमेशा जलता रहाता है और हमे रोशनी देता रहता है । इस मे दीपक का अपना कोई फायदा नही होता,वह हमारे लिए जलता है , हमे इस कुछ सिख लेनी चहिए ।

LEAVE A REPLY