Home Funny Hindi Quotes साहित्य और पत्रकारिता में फर्क

साहित्य और पत्रकारिता में फर्क

0

साहित्य और पत्रकारिता में फर्क यह है कि पत्रकारिता पढ़ने लायक नहीं होती और साहित्य पढ़ा नहीं जाता ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here