दाढ़ी

दाढ़ी

0
SHARE

बढ़ी हुई दाढ़ी लेकर जब एक आदमी अपनी प्रेमिका के पास पहुंचा तो उसे उसका रंग ढंग बिल्कुल पसंद नहीं आया ।
– देखो रमेश ! यह दाढ़ी तुम्हारे चेहरे पर अच्छी नहीं लगती। तुम हजामत बनवा लो प्लीज!

रमेश ने दुखी होते हुए उत्तर दिया – लेकिन मेरी पत्नी को मेरी दाढ़ी बहुत पसंद है। अगर मैंने दाढ़ी बनवाई तो वह बहुत नाराज होगी।

– उसे नाराज होने दो ! पर मुझे दाढ़ी अच्छी नहीं लगती ! तुम्हे बनवानी ही पड़ेगी।
प्रेमिका ने जोर देते हुए कहा ।

– देखो प्लीज ! मान जाओ । मेरी बीबी बहुत गुस्सैल स्वभाव की है। मेरा खानापीना हराम कर देगी।
रमेश ने चिरौरी करते हुए कहा ।

– तो फिर जाओ अपनी बीबी के पास ! मुझे तुमसे बात नहीं करनी ।
प्रेमिका ने नाराजी जताते हुए कहा ।

आखिरकार रमेश ने हथियार डाल दिए और हजामत बनवा ली ।

देर रात जब वह अपने घर पहुंचा तो उसकी बीबी बिस्तर में सो रही थी। वह चुपचाप जाकर बगल में लेट गया। बीबी ने आंखे मूंदे मूंदे ही उसके चेहरे पर हाथ फिराते हुए कहा – ओह सुरेश ! तुम्हें इस वक्त यहां नहीं आना चाहिए था । मेरे पति कभी भी वापस आ सकते हैं ………….

Sent By : Sadiq Haider, Kanpur

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY