हां या ना

हां या ना

4
SHARE

एक उम्रदराज विधवा और विधुर में पिछले पांच सालों से बड़ी गहरी दोस्ती थी। पुरुष ने आखिरकार महिला के आगे शादी का प्रस्ताव कर ही डाला। महिला फौरन हां कह दी।
अगली सुबह जब वह जागा तो उसे ठीक से याद नहीं आया कि मेरे शादी के प्रस्ताव के बारे में महिला ने क्या जवाब दिया था। हां या ना। काफी देर तक कोशिश करने के बाद भी जब याद नहीं आया तो उसने महिला को फोन लगाया और पूछा कि कल मेरे शादी के प्रस्ताव पर उसने क्या जवाब दिया था, हां या ना।
महिला ने कहा – ”भगवान का लाख लाख शुक्र है कि तुमने फोन कर लिया। जवाब तो मैंने ”हां” ही दिया था पर मैं ये भूल गई थी कि किसको दिया था!”

 

4 COMMENTS

  1. ek bar ek sardar bdi ghri need m so rha tha. tbhi vha use ek macchar buri kat rha tha to vh tang aakr charpai k neeche so gya .
    tabhi vha ek jugnu aa gya .
    to sardar bola – o teri ki ye to torch lekar dhoodh rha h .

LEAVE A REPLY