दोबारा कोशिश करके देख सकते हो

दोबारा कोशिश करके देख सकते हो

5
SHARE

जी मिचलाने की शिकायत लेकर जब एक मां अपनी 18 वर्षीया पुत्री को लेकर डॉक्टर के पास पहुंची तो पाया कि वह गर्भवती है। रोती, पीटती, कोसती हुई वह उसे घर लेकर आई और बोली – वह कौन सुअर का बच्चा है जिसने यह कुकर्म किया है। जल्दी से उसे यहां बुला नहीं तो तुझे जान से मार दूंगी।

रोते-रोते लड़की ने एक फोन लगाया। लगभग आधे घण्टे बाद एक मर्सडीज दरवाजे पर आकर रुकी । उसमें से एक सुन्दर सा नौजवान निकला और अन्दर आकर सोफे पर बैठ गया। बोला – मैं ही वह आदमी हूं जिसकी वजह से आपको परेशानी हुई है। मैं आप लोगों का अपराधी हूं। लेकिन मैं उसका दण्ड भुगतने को तैयार हूं। देखिये, आपकी बेटी से शादी करना तो सम्भव नहीं है क्योंकि उसके लिए मेरे पिता कभी तैयार नहीं होंगे। पर मैं पैसे से आपकी मदद कर सकता हूं। मैं आपकी बेटी की सारी जिंदगी की जिम्मेदारी लेता हूं। अगर उसके लड़की हुई तो मैं उसके नाम दस करोड़ रु., एक बंगला, एक गाड़ी और एक नई फैक्टरी लगवा दूंगा। अगर लड़का हुआ तो उसके नाम बीस करोड़ रु, मुंबई और दिल्ली दोनों शहरों में एक-एक आलीशान कोठी और एक बहुत बड़ी फैक्टरी बनवा दूंगा। और अगर बदकिस्मती से गर्भपात हो गया तो ……. तो आप ही बताइये मुझे क्या करना चाहिए ?

लड़की का पिता, जो अब तक चुपचाप उसकी बातें सुन रहा था, धीरे से उठा और नौजवान का हाथ अपने हाथ में लेकर नरमी से बोला – बेटा ! भगवान न करे ऐसा हो ! और अगर हो भी जाए तो तुम दोबारा कोशिश करके देख सकते हो  ……………..

Sent By : Riyaz,Kota.

 

5 COMMENTS

  1. हर किसी के साथ ऐसा ही हो . इसी लीएय बोलते है की सुरछा साथ रखिनी चाहिय …….

LEAVE A REPLY