हाथों के तोते

हाथों के तोते

0
SHARE

संता – कल तो गज़ब हो गया ! प्लेटफ़ॉर्म पर भीड़ में मेरी बीवी न जाने कहाँ खो गई थी. मेरे तो हाथों के तोते ही उड़ गए … !

बंता – उफ़ ! यह तो बहुत बुरा हुआ…..! कितने तोते थे ….. ???

Sent By : Rinkesh, Varanasi.

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY