दुबारा

दुबारा

0
SHARE

बंता के दोनों कानों पर पट्टी बंधी देखकर संता ने कारण पूछा। बंता ने बताया – जब मैं कपड़ों पर इस्तरी कर रहा था कि तभी फोन की घंटी बजी। हड़बड़ी में मैंने फोन की जगह गरम इस्तरी ही कान पर लगा ली जिससे कान जल गया।

ओह ! बहुत बुरा हुआ। – संता ने अफसोस जताया। – लेकिन पट्टी तो दूसरे कान पर भी बंधी है। इसे क्या हुआ ?

उस कम्बख्त ने दो मिनट बाद दुबारा फोन कर दिया …… !

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY