प्रार्थनाएं

प्रार्थनाएं

44
SHARE

एक आदमी ने प्रार्थनाएं छपवाकर अपने बेडरूम की दीवारों पर चिपका रखीं थीं.

रोज रात को सोने से पहले वह कहता – “भगवान, कृपया इन्हें आराम से पढ़ लेना …. मुझे नींद आ रही है …… !”

Sent By : Garima, Delhi.

 

44 COMMENTS

  1. yah aadmi nahi koi ladki hogi kyon की ladkiyon की तो आदत होती hai choona lagana.

  2. बकवास!
    टीचर: तुम्हारा नाम क्या है?
    स्टूडेंट: निसार!
    टीचर: बताओ तुम कैसे पैदा हुए?
    निसार: जवानी जानेमन, हसीन दिलरुबा;
    मिले जो दिल जवान, निसार हो गया!

  3. दुनिया में ऐसे भी लोक रहते है क्या ? भगवन बचाए ऐसे लोगो से

  4. यार नीरज , पहली बार कोई कम्मेंट इतना अच्छा लगा क़ि तारीफ़ जरूरी लगी , जीते रहो : मनीष

  5. यदी आप कुवारा ही h toयार कल को आप ki सादी हो जाती ह बैग वां न को ही पली रात को मोका danaa यार

  6. हे भगवन समझाओ कोई ये क्या बकवास जोके हे यार क्या में सही हु

  7. कभी बक्त मिले तो मुस्करा ए दोस्त, वर्ना जिन्दगी में वो लुफ्त कहाँ
    जिन्दगी यु ही गुजर जाएगी किसी की जुस्तुजू में, वर्ना यहाँ चिरागे दिल के सिवा रखा हे क्या.

  8. जिन्दगी मजाक लगती है अब तो हर शै पे दिल निसार है
    तेरी यादो का सिलसिला यु ही गर चला तो इस चमन में फिर बहार कहाँ

    तेरे ek झूठ पे फिर एक दिन गुजर गया
    हमें तो लगता हे एक ख्वाव था के वो भी शायद हमें प्यार करें

    सुना था प्यार की मंजिल नहीं hoti, ये तो अँधा हे इसके लिए रास्ते कहाँ
    जब हमसफ़र ही नहीं तो फिर रास्ते कहाँ और मंजिले kahan

  9. Greema g आप बहुत अच्छा लिखती है आपका जोक्स मुझे बहुत अच्छा लगा.

  10. deep bujh ke bhe jal sekte h
    kishti tufano se gujar sakti h,
    a mere dosto maush na ho y
    kishmat h pal bhar me badal shakti h,

  11. जोके जोके की ही तरह है अच्चा लगा BHAGWAAN aise भी मान जाये तो आलसी लोग हमेशा खुश रहेंगे.

LEAVE A REPLY