हम टिकट नहीं लेते … Bus Conductor Hindi Joke

हम टिकट नहीं लेते … Bus Conductor Hindi Joke

0
SHARE

डीटीसी की एक बस में एक पहलवान टाइप आदमी चढ़ा.

कंडक्टर ने टिकट लेने के लिए कहा तो पहलवान बोला – “हम टिकट नहीं लेते …”

पहलवान की बॉडी देखकर कंडक्टर की आगे कुछ कहने की हिम्मत नहीं हुई.

फिर ये हुआ कि लगभग रोज़ ही वो पहलवान उसी बस में सफ़र करने लगा और कंडक्टर के पूछने पर कह देता – “हम टिकट नहीं लेते …”

अब तो कंडक्टर को बेइज्जती महसूस होने लगी और एक दिन उसने भी बॉडी बनाने के लिए जिम जाना शुरू कर दिया.

धीरे-धीरे इसी तरह 6 महीने निकल गए. अब कंडक्टर का शरीर भी पहलवान की तरह मजबूत हो गया था… डोले शोले निकल आये थे.

और कंडक्टर ने फैसला किया कि आज इस पहलवान से किराया वसूल करके ही रहूँगा.

उस दिन जैसे ही पहलवान बस में चढ़ा, कंडक्टर बोला – “टिकट … ?”

पहलवान हमेशा की तरह बोला – “हम टिकट नहीं लेते ….”

इतना सुनना था कि कंडक्टर ने गुस्से में आस्तीने चढ़ाईं और डोले दिखाते हुए बोला – “तू टिकट क्यों नहीं लेता है बे …?”

“इसलिए … क्योंकि हमने मंथली पास बनवा रखा है !”, पहलवान आराम से बोला.

 

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY