निरीक्षण

निरीक्षण

0
SHARE

पुलिस में सिपाहियों की भर्ती के लिये साक्षात्कार के दौरान अभ्यार्थियों को एक व्यक्ति की तस्वीर दिखाते हुये साक्षात्कारकर्ता ने कहा – ”एक पुलिसवाले में निरीक्षण करने की शक्ति का होना बहुत आवश्यक है। इस चित्रको ध्यान से देखो और बताओ कि इसमें तुम्हें क्या खास बात दिखाई देती है ?”
पहले आवेदक ने कहा – ”इस आदमी के सिर्फ एक कान है ?”
”तुम जा सकते हो” – साक्षात्कारकर्ता ने असंतुष्टि का भाव प्रदर्शित करते कहा।
दूसरा आवेदक आया और बोला – ”यह एक कान वाला आदमी है।”
”बाहर निकल जाओ” – साक्षात्कारकर्ता चिल्लाया।

अब तीसरे आवेदक की बारी थी। पहले दो आवेदकों ने उसे बताया कि साक्षात्कारकर्ता को यह सुनना पसंद नहीं कि तस्वीर में जो आदमी है उसके एक ही कान है।
”इस जानकारी के लिये धन्यवाद”- तीसरे आवेदक ने कहा और साक्षात्कार कक्ष में प्रवेश कर गया।
उसने पहले थोड़ी देर तक तस्वीर को घूरा फिर बोला – ”यह आदमी कान्टेक्ट लेस पहनता है।”
साक्षात्कारकर्ता इस नये निरीक्षण से प्रभावित हुआ । बोला – ”शाबाश ! लेकिन मुझे बताओ कि तुमने ये कैसे जाना ?”
”चूंकि इस आदमी के एक ही कान है इसलिये वह चश्मा तो पहन ही नहीं सकता न!” – आवेदक ने कहा ।

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY