नोटों पर मुस्कुराते गांधी जी की तस्वीर रोज देखते हैं लेकिन क्या...

नोटों पर मुस्कुराते गांधी जी की तस्वीर रोज देखते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं ये तस्वीर कब और कहाँ खींची गई थी ?

0
SHARE

करेंसी नोटों पर छपी मुस्कुराते हुए गांधी जी की तस्वीर तो आप रोज ही देखते होंगे. वैसे देखा जाए तो यही एक ऐसी तस्वीर है जो महात्मा गाँधी का नाम सुनते ही सबसे पहले दिमाग में उभरती है. लेकिन क्या आप इस तस्वीर के बारे पर्याप्त जानते हैं ? जैसे कि ये कब खींची थी, कहाँ खींची गई थी ? उस वक़्त गांधी जी किसके साथ थे ? वगैरा वगैरा.

शायद आपको जानकारी न हो. बहुत से लोग तो इसे गांधी जी का कैरीकेचर मानते हैं. लेकिन ऐसा नहीं है. यह एक वास्तविक तस्वीर है. इस तस्वीर में से गांधीजी का चेहरा क्रॉप किया गया है जिसे नोटों पर छापा जाता है. ये रही वह तस्वीर –

इस तस्वीर में गांधीजी के साथ जो खड़े हैं उनका नाम है Lord Frederick William Pethick-Lawrence, जो एक ब्रिटिश राजनेता थे. इन्होने ब्रिटेन में महिला मताधिकार के समर्थन में 20वीं शताब्दी के शुरूआती वर्षों में आन्दोलन चलाया था. बाद में ये भारत और बर्मा के सेक्रेटरी भी रहे.

ये तस्वीर एक अज्ञात फोटोग्राफर द्वारा 1946 में तत्कालीन वाइसराय हाउस में खींची गई थी, जिसे आज राष्ट्रपति भवन के नाम से जाना जाता है.

इस तस्वीर में गांधी जी का चेहरा क्रॉप करके बैंक नोट्स के ऊपर छापा जाने लगा. 1996 में रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया ने महात्मा गाँधी सीरीज के नोटों की शुरुआत की थी. हालांकि इससे पहले 1987 में 500 के नोट के ऊपर महात्मा गाँधी की तस्वीर थी लेकिन वह इस सीरीज का नोट नहीं था.

(Source)

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY