वो एक्टर, जो फिल्मों में इतनी बार इंस्पेक्टर बना कि विश्व रिकॉर्ड...

वो एक्टर, जो फिल्मों में इतनी बार इंस्पेक्टर बना कि विश्व रिकॉर्ड बन गया

0
SHARE

यदि आपने 70 – 80 के दशक में बनी फिल्मों पर ध्यान दिया होगा तो पाया होगा कि उस जमाने की फिल्मों में हीरो, हीरोइन और विलेन भले ही कोई हों लेकिन कुछ ख़ास टाइप के किरदार हुआ करते थे जिनमें कुछ चुने हुए एक्टर ही नजर आते थे. जैसे कि पुलिस इंस्पेक्टर का रोल हुआ, डॉक्टर का रोल हुआ या फिर विलेन के चमचों का रोल हुआ.

ऐसे ही एक एक्टर थे जगदीश राज. पोस्टर पर इनकी सूरत देखते ही समझ में आ जाता था कि फिल्म में ये पुलिस इंस्पेक्टर ही होंगे. हालांकि कभी कभी वे जज और डॉक्टर की भूमिका में भी नजर आये लेकिन बॉलीवुड के निर्माता निर्देशकों ने इन्हें इतनी अधिक बार पुलिस इंस्पेक्टर बनाया कि वर्ल्ड रिकॉर्ड ही बन गया.

जी हाँ, जगदीश राज अपने फ़िल्मी करियर में 144 बार एक जैसे ही रोल में नजर आये और वह था पुलिस इंस्पेक्टर का रोल. उनकी ये उपलब्धि दुनिया भर में इतनी ख़ास है कि गिनीज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकार्ड्स में दर्ज है. पुलिस इंस्पेक्टर के रोल में वे इतने टाइप्ड हो चुके थे कि कहते हैं उन्होंने अपने लिए एक पुलिस की वर्दी ही सिलवा ली थी. जैसे ही किसी निर्माता का फ़ोन आता था, वे उसे पहनकर सेट पर पहुँच जाते थे.

बाद में फिल्म ‘लोहा’ और ‘नाइंसाफी’ आई जिसमें वे पुलिस कमिश्नर बने. उन्होंने इस पर कहा, “चलो, आखिर मेरा प्रमोशन तो हुआ”.

जगदीश राज ने देव आनंद, अमिताभ बच्चन सहित उस जमाने के लगभग सभी बड़े सितारों के साथ काम किया. डॉन, दीवार, शक्ति, हम दोनों, जॉनी मेरा नाम जैसी सुपरहिट फ़िल्में तो आपने देखी ही होंगी.

1928 में सरगोधा (अब पाकिस्तान) में जन्मे जगदीश राज का 85 वर्ष की आयु में 2013 में मुंबई में निधन हो गया था.

उनकी बेटी भी बॉलीवुड की नामचीन अदाकारा रह चुकी हैं. जी हां, वे अनीता राज के पिता थे.

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY