Home प्रेरक कहानियाँ (Motivational Stories) ख़ुशी से मुलाक़ात (Funny Story)

ख़ुशी से मुलाक़ात (Funny Story)

0

एक दिन मुल्ला नसरुद्दीन अपने घर के बाहर बैठा हुआ था तभी किसी दूसरे गाँव का एक व्यक्ति जो वहाँ से गुजर रहा था, थोड़ी देर सुस्ताने के लिए मुल्ला के पास बैठ गया.

Image Courtesy : www.english-for-students.com

बातों-बातों में उस व्यक्ति ने बताया उस व्यक्ति के पास धन-दौलत की कोई कमी नहीं है परन्तु फिर भी वह अपनी ज़िन्दगी से खुश नहीं है और अक्सर ख़ुशी की तलाश में इधर उधर भटकता रहता है.

“तो फिर ख़ुशी से तुम्हारी मुलाक़ात हुई या नहीं ?”, मुल्ला ने पूछा.

“अभी तक तो नहीं”, व्यक्ति ने ठन्डे स्वर में जवाब दिया.

“इस थैले में क्या है ?”, मुल्ला ने उसके हाथ के थैले की ओर इशारा करते हुए पूछा.

“इसमें रूपए हैं जिन्हें मैं अपने यात्रा खर्च के लिए लाया हूँ…”, आदमी ने जवाब दिया.

इतना सुनते ही मुल्ला ने उसके हाथ में से पैसों से भरा उसका थैला छीना और भागने लगा. मुल्ला की इस अचानक हरकत से हैरान वह आदमी भी अपना थैला वापस लेने के लिए मुल्ला के पीछे भागा.

उस आदमी ने काफी दूर तक मुल्ला का पीछा किया, जब तक वह उसकी नज़रों से ओझल नहीं हो गया, परन्तु पकड़ नहीं पाया. अब तो वह आदमी बहुत ही निराश और दुखी हो गया क्योंकि उसके थैले में काफी पैसे थे.

उधर मुल्ला कुछ दूर जाकर रुक गया और उसने थैले को सड़क के किनारे एक जगह पर रख दिया और एक पेड़ के पीछे छुपकर उस आदमी का इंतज़ार करने लगा जो निराशा में डूबा हुआ धीरे-धीरे चला आ रहा था.

नज़दीक आने पर जैसे ही उस आदमी ने सड़क के किनारे अपना थैला रखा देखा, उसकी ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा. उसने झपट कर थैला उठाया और ऊपरवाले का धन्यवाद करता हुआ नाचने लगा.

उसे ख़ुशी से नाचते देख मुल्ला पेड़ के पीछे से निकल कर सामने आ गया. मुल्ला को देखते ही आदमी गुस्से से बोला – “तुम मेरा थैला लेकर क्यों भागे ?”

मुल्ला मुस्कुरा कर बोला – “पहले तुम ये बताओ कि थैला वापस मिलने पर कैसा लगा ?”

आदमी बोला – “बहुत … बहुत ख़ुशी हुई …!!”

मुल्ला – “तुम्हारी ख़ुशी से मुलाक़ात करवाने के लिए ही मैं थैला लेकर भागा था … तुम कह रहे थे न कि तुम ख़ुशी की तलाश में निकले हो ? मिल गई न ख़ुशी ….!”

अब उस व्यक्ति को अहसास हुआ कि सच में खुशियाँ तो हमारे आस पास ही है. हम केवल फालतू की भागदौड़ में ही जिन्दगी को खो देते है जबकि अगर हम अपने आस पास ही खुशियों की तलाश करे तो जान जायेंगे कि वो हमसे दूर कभी थी ही नहीं !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here