पापा घुमाने नहीं ले गए तो बच्चे को आया इतना गुस्सा कि...

पापा घुमाने नहीं ले गए तो बच्चे को आया इतना गुस्सा कि थाने में शिकायत करने पहुँच गया

0
SHARE

आज का दौर कुछ ऐसा है कि ज्यादातर माता पिता बच्चों की जरूरतें तो पूरी करते हैं लेकिन उन्हें समय बिलकुल नहीं देते. जबकि जरूरत इस बात की है कि भले उनकी आवश्यकताओं की पूर्ति में कुछ कमी रह जाए पर उन्हें माता पिता से समय पूरा मिलना चाहिए. आप बच्चों के जितना नजदीक रहते हैं आपका उनसे भावनात्मक जुड़ाव उतना ही अधिक होता है. बच्चों को समय न देने का दुष्प्रभाव क्या हो सकता है इसका उदाहरण हाल ही उत्तरप्रदेश के इटावा में घटित हुई एक घटना से समझा जा सकता है.

11 साल का ओम अपने पिता से इसलिए नाराज हो गया क्योंकि वे उसे नुमाइश दिखाने नहीं ले गये. बाल मन में उपजे क्रोध की मात्रा इतनी अधिक थी कि वह पिता की शिकायत करने थाने पहुँच गया.

दरअसल ओम के दोस्त इटावा महोत्सव देखने जा रहे थे. ओम ने भी अपने पिता से चलने के लिए कहा लेकिन पिता ने मना कर दिया. बच्चे ने जिद की तो उसे डांटा फटकारा और कह दिया कि नहीं ले जाऊँगा जो करना है सो कर लो. बच्चे से यह सहन नहीं हुआ तो वह पुलिस के पास थाने पहुँच गया. वह अपने पिता से इतना नाराज था कि उसने थाने में कहा कि पुलिस उसके पिता को समझाए कि वे उसे मेला दिखाने ले जाएँ. अगर वे नहीं मानें तो उन्हें इतना मारें कि उनकी रूह काँप उठे ! आप खुद देखिये इस वीडियो में –

इसके बाद पुलिस ओम के घर गई और उसके परिजनों से बात करके उन्हें समझाया तब जाकर बच्चे का गुस्सा शांत हुआ. ये वीडियो उन लोगों के लिए सबक है जो अपने बच्चों को समय नहीं देते.

 

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY