घर में आये दिन लौकी बनने से तंग आये पति ने लगाया...

घर में आये दिन लौकी बनने से तंग आये पति ने लगाया पत्नी पर असहिष्णुता का आरोप

0
SHARE

नई दिल्ली – देश में चल रही असहिष्णुता की बहस में उस समय नया मोड़ आ गया जब एक पति ने अपनी पत्नी पर असहिष्णुता का आरोप लगा दिया. पति ने मीडिया को बताया कि उसकी पत्नी कुछ महीनों से खाने में सब्जी की जगह आये दिन लौकी खिला कर उसे प्रताड़ित कर रही है.

lauki-ki-sabji

पेशे से शासकीय कर्मचारी पति ने बताया कि ज्यादा लौकी खाने से उसके शरीर की चर्बी काफी घट गई है और फलस्वरूप शरीर में पहले की अपेक्षा फुर्ती रहने लगी है. इसका नुक्सान ये हुआ है कि अब वह ऑफिस में ज्यादा तेज़ी से फाइलें निपटाने लगा है जो किसी भी शासकीय कर्मचारी के लिए अच्छी बात नहीं है.

पति ने बताया कि देश में उसके जैसे लाखों पति पिछले कुछ महीनों से पत्नियों की इस मनमानी के शिकार हो रहे हैं किन्तु डर के मारे मुँह नहीं खोल पा रहे हैं. कुछ तो उसके दोस्त हैं जो कहते हैं कि आवाज़ उठाने पर बेलन खाने से तो लौकी खाना बेहतर है.

उधर उस शासकीय कर्मचारी की पत्नी का कहना है कि उसके पति अनर्गल प्रलाप कर रहे हैं. उनके घर में असहिष्णुता का कोई माहौल नहीं है. आखिर वह और उसके बच्चे भी तो लौकी खा रहे हैं.

महिला ने मीडिया को आगे बताया कि सच्चाई दरअसल कुछ और है. उसके पति  उसके ऊपर आरोप लगाकर खुद को मासूम साबित करने की कोशिश कर रहे हैं. असलियत ये है कि उसके पति रोज दाल खाना चाहते हैं लेकिन दाल इतनी मँहगी हो गई है कि उनकी औकात से बाहर निकल गई है. इसलिए वो आप लोगों के सामने ये उलटी-सीधी बातें करके अपनी भड़ास निकाल रहे हैं.

(नोट – उपरोक्त खबर पूरी तरह काल्पनिक है और सिर्फ मनोरंजन के उद्देश्य से लिखी गई है. इसका वास्तविकता से कोई सम्बन्ध नहीं है.)

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY