क्रिकेट वर्ल्ड कप से जुडीं 7 रोचक जानकारियाँ

क्रिकेट वर्ल्ड कप से जुडीं 7 रोचक जानकारियाँ

0
SHARE

क्रिकेट विश्व कप टूर्नामेंट 2015 शुरू हो चुका है. और हमारे देश में तो यूं भी क्रिकेट को धर्म माना जाता है सो आजकल माहौल कुछ इस तरह क्रिकेटमय है कि  हर गली नुक्कड़ पर लोग क्रिकेट की चर्चा करते हुए मिल जाते है. ऐसे में जिन लोगों ने कभी हाथ में बल्ला भी नहीं पकड़ा वो भी अपने क्रिकेट ज्ञान की शेखी बघारने से नहीं चूक रहे!

खैर, यहाँ हम आपके लिए प्रस्तुत कर रहे हैं क्रिकेट वर्ल्ड कप से जुड़ीं कुछ रोचक जानकारियाँ. क्या पता कहीं आपको भी शेखी बघारने का मौका मिल जाए … !!!

१. जब जीता हुआ मैच हारी टीम इंडिया

Team India lost the match by just 1 run
© Getty

 

1987 के वर्ल्ड कप के दौरान भारत-ऑस्ट्रेलिया का मैच हो रहा था. डीन जोन्स ने मनिंदर सिंह की एक बॉल को हिट किया जो सीधी बाउंड्री के पास जाकर गिरी. अंपायर देख नहीं पाए कि यह चौका था या छक्का, अतः उन्होंने रवि शास्त्री की बात पर विश्वास करते हुए चौका घोषित कर दिया. किन्तु बल्लेबाज जोन्स ने अंपायर से कहा कि यह चौका नहीं छक्का था. इस पर अंपायर ने पारी समाप्त होने पर इस मसले को हल करने को कहा. पारी समाप्त होने पर ऑस्ट्रेलिया के टीम मेनेजर ने अंपायर से बात की, और अंपायर ने निर्णय कप्तान कपिल देव के ऊपर छोड़ दिया. दयालु कपिल देव चौके को छक्का मानने पर राजी हो गए. मजे की बात यह रही कि वह मैच टीम इंडिया मात्र 1 रन से हारी.

2. जब वेंकटेश प्रसाद ने दिया ईंट का जवाब पत्थर से

©Getty
© Getty

1996 के वर्ल्ड कप क्वार्टर फाइनल मैच के दौरान वेंकटेश प्रसाद की एक गेंद को बाउंड्री की ओर भेजते हुए पाकिस्तानी बल्लेबाज आमिर सोहेल ने वेंकटेश को गेंद की दिशा दिखाते हुए व्यंग्यपूर्ण इशारा किया जिसका अर्थ था – “जाओ, पकड़ो”.

अगली ही गेंद पर वेंकटेश ने आमिर सोहेल की गिल्लियां उड़ाते हुए उन्हीं की तर्ज़ पर उन्हें ड्रेसिंग रूम की दिशा दिखा दी.

3. गेंद सिर में लगी पर हेलमेट तब भी नहीं पहना

facing-donald-without-helmet
© Getty

 

एक मैच के दौरान UAE टीम के कप्तान सुल्तान ज़रवानी बिना हेलमेट पहने, विश्व प्रसिद्द तेज़ गेंदबाज़ एलन डोनाल्ड की गेंदों का सामना कर रहे थे. एक गेंद उनके सिर पर लगी और वो कुछ देर सिर पकड़े खड़े रहे. हालांकि इसके बाद भी उन्होंने हेलमेट नहीं पहना तो नहीं ही पहना.

4. जब टॉस के लिए दो बार उछालना पड़ा सिक्का

© Getty
© Getty

2011 वर्ल्ड कप फाइनल मैच के दौरान टॉस के लिए सिक्का दो बार उछालना पड़ा था क्योंकि मैच रेफरी श्रीलंकाई कप्तान की आवाज़  ठीक से सुन नहीं पाए थे.

5. जब rain-rule ने साउथ अफ्रीका को दिया असंभव टारगेट

South Africa lost to England due to controversial rain-rule method
© Getty

1992 के साउथ अफ्रीका Vs इंग्लैंड सेमी फाइनल मैच में साउथ अफ्रीका को 13 गेंदों में 22 रन बनाने थे कि तभी बारिश होने लगी. जब बारिश बंद हुई और मैच दुबारा शुरू हुआ तो विवादस्पद rain rule method के अनुसार साउथ अफ्रीका को नया टारगेट मिला – 7 गेंदों में 22 रन. कुछ ही पलों बाद फिर बारिश शुरू हो गई और फिर नया टारगेट मिला – 1 गेंद में 22 run !!!

6. जब सचिन ने सहवाग को दो मैचों के दौरान बगल में ही बिठाए रखा

© Getty
© Getty

2011 वर्ल्ड कप क्वार्टर फाइनल मैच में आउट होने के बाद सचिन और सहवाग अगल-बगल में बैठे थे. जब तक पूरा मैच नहीं हो गया और भारत जीत नहीं गया, दोनों अपनी जगह से नहीं हिले. इस दौरान सचिन लगातार प्रार्थना करते रहे. इसके बाद फाइनल मैच में भी सचिन ने अपने उसी (अंध) विश्वास के चलते सहवाग को अपने बगल में बैठने को कहा और पूरे मैच के दौरान उठने नहीं दिया. सहवाग उठकर जाना भी चाहते थे तो सचिन ने, जब तक धोनी ने विजयी छक्का नहीं लगा दिया, उन्हें उठने नहीं दिया.

7. वर्ल्ड कप खेलने वाले सबसे अधिक उम्र के खिलाड़ी

Nolan Clarke of Netherlands was the oldest player, who played in World Cup 1996
© Getty

नीदरलैंड के नोलन क्लार्क सबसे अधिक उम्र (47 वर्ष, 257 दिन) के खिलाड़ी थे जो 1996 का वर्ल्ड खेले.

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY