Home Life & Culture एक बल्ब, जो पिछले 117 सालों से लगातार जले जा रहा है

एक बल्ब, जो पिछले 117 सालों से लगातार जले जा रहा है

0

हमारे आपके सभी के घरों में बिजली के बल्ब होते हैं. हालांकि अब एलईडी का ज़माना है फिर भी पुराने पीली रौशनी वाले बल्ब अब भी कई जगह देखे जा सकते हैं. लेकिन एक बल्ब की अधिकतम आयु क्या हो सकती है ? आप कहेंगे कुछ महीने या फिर ज्यादा से जयादा साल दो साल ! लेकिन अगर हम कहें कि दुनिया में एक बल्ब ऐसा भी है जो पिछले 117 वर्षों से लगातार जले जा रहा है तो शायद आप विश्वास नहीं करेंगे. पर ये सच है.

लिवरमोर, केलिफोर्निया (अमेरिका) में एक ऐसा बल्ब है जिसे 1901 में लगाया गया था और वह आज तक जले जा रहा है. जी हाँ, एक सदी से ऊपर हो गया लेकिन बल्ब है कि आज तक फुका नहीं ! आज इसे दुनिया का सबसे पुराना बल्ब माना जाता है और इसे गिनीज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकार्ड्स में स्थान मिला हुआ है.

या बल्ब लिवरमोर के फायर स्टेशन 6 में लगा हुआ है. इसे आप इन्टरनेट पर Centennial Light के नाम से खोज सकते हैं. इस बल्ब को ऑहियो की इलेक्ट्रिक कंपनी Shelby ने 1890 में बनाया था.

अपने सौ साल से ऊपर के इतिहास में यह बल्ब सिर्फ 2 बार बंद हुआ है. एक बार 1906 में जब इसे नई इमारत में लगाया गया और दूसरी बार 1976 में जब एक बार फिर से फायर स्टेशन की इमारत बदली गई. इस बल्ब की लम्बी उम्र की कहानी तब दुनिया के सामने आई जब 1972 में एक रिपोर्टर की नजर इस पर पड़ी.

रिपोर्टर ने जब बल्ब के बारे में पता किया तो वह हैरान रह गया. उसने गिनीज बुक से संपर्क किया और कहानी के सत्यापित होने पर गिनीज बुक में दुनिया के सबसे पुराने जीवित बल्ब के रूप में स्थान मिल गया. आज इस बल्ब के लिए बाकायदा एक वेबसाइट है (centennialbulb.org ) और इसे देखने के लिए टूरिस्ट भी आने लगे हैं.

20 मई 2013 को ये बल्ब अचानक बंद हो गया. लोगों ने समझा कि अब ये फुंक गया है. लेकिन जब इलेक्ट्रीशियन ने जांच की तो पाया कि बल्ब तो सही सलामत है पर उसे बिजली आपूर्ति करने वाले तार खराब हो गए हैं. जैसे ही तार बदला गया, बल्ब एक बार फिर जलने लगा और आज भी जल रहा है.

(Source : sporcle)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here