Lok Kathayen

Lok Kathayen

 

हाथी और शिष्य

एक गुरूजी अपने शिष्यों से बार बार कहते थे, "कण कण मे भगवान हैं. ऐसी कोई वस्तु और स्थान नही जहाँ भगवान न हो. अतः संसार...

मुल्ला नसरुद्दीन के तीन मजेदार किस्से

मुल्ला नसरुद्दीन (Mulla Nasruddin) तुर्की का एक दार्शनिक था जिसके नाम से कई शिक्षाप्रद व मनोरंजक किस्से प्रचलित हैं. हालांकि इन किस्सों की सत्यता...

हथेली पर बाल क्यों नहीं हैं ?

अकबर और बीरबल की एक मनोरंजक कहानी .... एक बार बादशाह अकबर का दरबार लगा हुआ था. राजा टोडरमल, राजा मानसिंह, तानसेन, राजा बीरबल और...

चतुर बहू (लोक कथा)

किसी गांव में एक सेठ रहता था. उसका एक ही बेटा था, जो व्यापार के काम से परदेस गया हुआ था. सेठ की बहू...

मनहूस आदमी (लोक कथा)

तेनाली राम का एक मशहूर किस्सा  राजा कृष्णदेव राय के समय की बात है. उनके राज्य में सुखदेव नाम का एक आदमी रहता था. सुखदेव...

बदले में आया हूँ – शेख़ चिल्ली का एक मजेदार किस्सा

यदि आप किस्से-कहानियों के शौक़ीन हैं तो शेख चिल्ली का नाम आपने जरूर सुना होगा. उसे एक खयाली दुनिया में रहने वाले मूर्ख इंसान...

चील और राजा

बहुत समय पहले एक लड़का था जो अपना पेट भरने के लिए तीर कमान लेकर पहाड़ों में शिकार करने के लिए जाया करता था....

भिखारी का इनाम

A Jewish folk tale  - एक भिखारी को बाज़ार में चमड़े का एक बटुआ पड़ा मिला. उसने बटुए को खोलकर देखा. बटुए में सोने की...

17 घोड़े

किसी नगर में एक धनवान सेठ रहता था. उसके पास बेहिसाब दौलत थी लेकिन उसे सबसे ज्यादा प्यार अपने अस्तबल के 17 घोड़ों से...

चोर और राजा (लोक कथा)

किसी जमाने में एक चोर था। वह बड़ा ही चतुर था। लोगों का कहना था कि वह आदमी की आंखों का काजल तक उड़ा...