पहली नजर में नहीं, चौथी नजर में प्यार होता है, ये हम...

पहली नजर में नहीं, चौथी नजर में प्यार होता है, ये हम नहीं रिसर्च कह रही है

0
SHARE

पहली नजर में प्यार हो जाने के बारे में आपने सुन ही रखा होगा. इस तथ्य को स्थापित करने में हमारी फिल्मों का भी बहुत बड़ा योगदान है. परन्तु ये धारणा सिरे से गलत साबित हो गई है. एक रिसर्च में ये साबित हुआ है कि प्यार कभी पहली नजर में नहीं होता. इसके लिए कम से कम चार मुलाकातें होनी जरूरी हैं.

न्यूयॉर्क के हेमिल्टन कॉलेज के वैज्ञानिक रवि थिरुचसेलवम और उनकी टीम ने एक शोध किया जिसमें कई जवान महिला पुरुषों को शामिल किया. इन लोगों को एक दूसरे की तस्वीरें दिखाई गईं और इसका उनके दिमाग पर होने वाले असर की जांच की गई. रिसर्च में पाया पाया गया कि जितनी ज्यादा बार उन्हें किसी की तस्वीर दिखाई गई उसके प्रति आकर्षण की तीव्रता उतनी ही बढ़ती गई. चौथी बार में उनकी ख़ुशी दोगुनी पाई गई.

रिसर्च से सामने आया कि पहली नजर में किसी के प्रति आकर्षण पैदा होता है परन्तु उसे प्यार नहीं कहा जा सकता. इसके लिए कम से कम तीन से चार मुलाकातें जरूरी हैं. एक बात और सामने आई कि यदि दो व्यक्तियों के बीच भरोसा नहीं है तो प्यार नहीं हो सकता. भरोसा पैदा होने के लिए भी बार बार मुलाक़ात होना जरूरी है.

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY