इस आर्टिस्ट ने सिर्फ 6 घंटों में इंसान का असली रूप दुनिया...

इस आर्टिस्ट ने सिर्फ 6 घंटों में इंसान का असली रूप दुनिया के सामने ला दिया

0
SHARE

मेरिना एब्रामोविक यूगोस्लाविया की एक ख्यातनाम performance आर्टिस्ट हैं. हाल ही में उन्होंने नेपल्स (इटली) के Morra स्टूडियो में अपने ऊपर एक अनोखा एक्सपेरिमेंट किया.

उन्होंने एक हाल में खुद को खड़ा कर लिया और अपने सामने एक बोर्ड पर लिखा – “टेबल पर 72 वस्तुएं रखी हैं. आप इन वस्तुओं को जैसे चाहेँ मेरे शरीर पर इस्तेमाल कर सकते हैं. मैं अगले छह घंटे तक एक वस्तु के रूप में रहूँगी और किसी भी परिणाम के लिए खुद ज़िम्मेदार रहूँगी.”

इन सामानों में फूल, ब्रेड, ऊन, शराब, इत्र, अंगूर, ब्लेड, कीलें, ज़ंजीर, रेजर, रस्सी, चाकू, लोडेड पिस्तौल आदि थे.

शुरू शुरू में सिर्फ फोटोग्राफर ही उनके नजदीक आये और तस्वीरें लेने लगे.

फिर थोड़ी देर बाद अन्य लोग भी नजदीक आने लगे. किसी ने उनके हाथ में फूल रख दिया तो कोई कोई गले लगाने लगा.

थोडा वक़्त और गुजरा और लोग उनके साथ अजीब अजीब हरकतें करने लगे. कुछ लोगों ने उन्हें बिठाने की कोशिश की तो किसी ने लिटाने की. कुछ ने उनके सर पर पानी भी डाला.

धीरे धीरे लोगों का व्यवहार और हिंसक होने लगा. उन्हें जंजीरों से बांध कर उसकी टांगों के बीच में चाकू फंसा दिया गया.

शरीर पर ब्लेड से कट मार दिए गए. एक ने तो ने उनके ऊपर पिस्टल तान दी.

उनके कपड़े फाड़कर उन्हें निर्वस्त्र कर दिया गया. कईयों ने उनके शरीर को बुरी नीयत से छूने से भी परहेज नहीं किया.

किसी तरह 6 घंटे गुजर गए और मेरिना वापस इंसान बन गईं. अब वे उन लोगों के बीच घूमने लगीं जो कुछ देर पहले तक उनके साथ दुर्व्यवहार कर रहे थे. उन्होंने देखा कि वे ही लोग अब उनसे नजरें बचा रहे थे.

मेरिना का यह प्रयोग इंसानी मनोविज्ञान को समझने का एक तरीका था. उन्होंने कहा कि यदि आप प्रतिक्रिया नहीं देते हैं तो लोग आपको बड़ी आसानी से नुक्सान पहुंचाते हैं. इस बात से कोई मतलब नहीं कि वे कितने शिक्षित हैं, मौका मिलते ही वे हिंसक हो सकते हैं.


(Story Source : EliteReaders)

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY