Home Odd News जब एक ओवर में बने थे 77 रन

जब एक ओवर में बने थे 77 रन

0

क्या आपको पता है क्रिकेट इतिहास का सबसे मंहगा ओवर कौनसा है ? जिसमें युवराज ने 6 छक्के मारे थे वह ? या फिर जिसमें रवि शास्त्री और गैरी सोबर्स ने छक्के मारे थे ? जी नहीं, सबसे मंहगा ओवर इनमें से कोई नहीं है.

Patrika

क्रिकेट इतिहास का सबसे मंहगा ओवर फरवरी 1990 में एक प्रथम श्रेणी मैच के दौरान फेंका गया था. जिस खिलाड़ी ने यह ओवर फेंका था उसका नाम था Bert Vance.

20 फरवरी 1990 को न्यूज़ीलैण्ड की घरेलू टीमों कैंटरबरी और वेलिंग्टन के बीच शैल ट्राफी पर कब्जे के लिए मैच चल रहा था. मैच का आखिरी दिन था और कैंटरबरी की टीम को जीतने के लिए 59 ओवरों में 291 रन बनाने थे.

वेलिंग्टन की धमाकेदार गेंदबाजी के आगे कैंटरबरी की टीम लड़खड़ाती नजर आ रही थी. टीम के आठ विकेट मात्र 108 रन के स्कोर पर गिर चुके थे. क्रीज़ पर जर्मन ली और रोजर फोर्ड नाम के खिलाड़ी खेल रहे थे.

ली और फोर्ड ने काफी संभल कर खेलना शुरू किया और काफी देर तक कोई विकेट नहीं गिरने दिया. यह देखकर वेलिंग्टन टीम के कप्तान ने योजना बनाई कि इन्हें बड़े शॉट खेलने पर मजबूर किया जाए ताकि विकेट गिरे. यह सोचकर उन्होंने Bert Vance नामक खिलाड़ी को गेंद थमा दी.

और फिर शुरू हुआ इतिहास का सबसे मंहगा ओवर. वेलिंग्टन के कप्तान की योजनानुसार बल्लेबाजों ने बड़े शॉट तो खूब खेले पर विकेट एक भी नहीं गिरा. दरअसल Vance ने इतनी नो बॉल और वाइड फेंकी कि विकेट गिरने का मौका ही नहीं आया उलटे चौकों छक्कों की झड़ी लग गई. यह ओवर 22 गेंदें फेंकने के बाद पूरा हुआ.

आपको जानकर हैरानी होगी कि Vance ने पहली 17 गेंदों में से सिर्फ एक ही सही फेंकी बाकी सारी गेंदें या तो नो बॉल थीं या वाइड ! और इन गेंदों में Vance ने 64 रन लुटाये. शेष पांच गेंदों में 13 रन बने और इस तरह एक ओवर में कुल 77 रन बने.

विडंबना देखिये कि एक ओवर में 77 रन बनाने के बाद भी कैंटरबरी की टीम यह मैच 1 रन से हार गई.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here