मरने के लिए 23वीं मंजिल से कूदी, फिर भी बच गई

मरने के लिए 23वीं मंजिल से कूदी, फिर भी बच गई

15
SHARE

कहते हैं कि जीवन और मृत्यु ऊपरवाले के हाथ में हैं और उसकी इच्छा के सामने इंसान की कोशिशें बेकार हैं. आत्महत्या का इरादा लेकर एक होटल की 23वीं मंजिल से कूदी एक अर्जेन्टीना निवासी औरत की जान आखिर बच ही गई.

ब्यूनस आयर्स शहर के एक भीड़ भरे इलाके के होटल की 23 वीं मंजिल से इस महिला ने ख़ुदकुशी करने के लिए छलांग लगा दी. लेकिन ठीक उसी समय नीचे सड़क पर एक टैक्सी-ड्राईवर ने अपनी  टैक्सी रोकी. महिला सीधी उसी टैक्सी  के ऊपर जा गिरी. गनीमत रही कि महिला के गिरने के क्षण भर पहले ही टैक्सी-ड्राईवर दरवाजा खोलकर बाहर निकल गया था वरना उसकी क्या हालत होती इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि  टैक्सी की छत और आगे का शीशा महिला के शरीर की टक्कर से बिलकुल चकनाचूर हो गए थे.

हालांकि इतनी ऊंचाई से गिरने के कारण महिला को काफी चोटें आयीं हैं लेकिन डॉक्टरों का कहना है कि उसकी जान को कोई खतरा नहीं है.

 

15 COMMENTS

  1. जाकों रखे सान्या मार सके न कोई कहते हे की जिसके ऊपर भगबान का हाथ होता है उसे कोई नहीं मार सकता

  2. जाको रके संयिया मार सके न कोई,बाल न बांका कर सके चाहे सो जग बरी होई,

  3. Mohabbat mujhe thi usi se..Sanam.
    Yadaon me uski yeh Dil tadpta raha ..
    Maut bhi meri Chahat ko rok na saki..
    Kabr me bhi yeh Dil Dhadkta raha.
    `
    Tumhari is ada ka kya jawab du,
    apne dost ko kya uphar du,
    koi achcha sa phool hota to mali se mangvata,
    jo khud gulab hai usko kya gulab du…
    `
    Bina dard ke ansu bahaye nahi jate,
    Bina pyar ke rishte nibhaye nahi jate,
    E dost 1 baat yaad rakhna bina DIL diye
    DIL paye bhi nahi jate…
    `
    Badi Muddat se chaha hai tujhe,
    bade Duaon se paya hai tujhe,
    tujhe bhulane ki socho bhi to kaise,
    Kismat ki Lakiron se churaya hai tujhe!
    `

  4. जाकों रखे सान्या मार सके न कोई कहते हे की जिसके ऊपर भगबान का हाथ होता है उसे कोई नहीं मार सकता

LEAVE A REPLY