Home Life & Culture ऐसा देश जहाँ ट्रेन जरा भी लेट हुई तो अधिकारी माफ़ी मांगने...

ऐसा देश जहाँ ट्रेन जरा भी लेट हुई तो अधिकारी माफ़ी मांगने आ जाते हैं

0

एक तरफ जहाँ भारत में ट्रेनों का लेट होना आम सी बात है तो वहीं दुनिया में एक ऐसा देश भी है जहाँ की रेलवे अपनी समयबद्धता के लिए दुनिया भर में जानी जाती है. हम जिस देश की रेलवे की बात कर रहे है उसका नाम है “जापान”. जापान की ट्रेनों के समय को लेकर कई बाते बताई जाती है कहा जाता है कि जापान की ट्रेनों का शेड्यूल इतना सटीक है कि अगर ट्रेन में कुछ सेकंड्स की देरी हो जाते है तो उस ट्रेन में स्थित रेलवे ऑफिसर्स को हर यात्री से माफी मांगनी पड़ती है.

Photo : Bhaskar

जापान की बुलेट ट्रेन शिन्कासेन का रिकॉर्ड है कि वह कभी भी 36 सेकंड से ज्यादा लेट नहीं हुयी है. अगर इसमें देरी हुयी तो ऑफिसर इसका अंजाम भुगतते है. जापान में समय का बहुत ख्याल रखा जाता है. सरकारी हो या गैर सरकारी ऑफिस,एक-2 मिनट की देरी भी बहुत गंभीर मानी जाती है.

Photo ; Jansatta

कहा जाता है कि जापान के लोग ट्रेनों के आने जाने से अपनी घडियो का समय मिलाते है. हालांकि जापान में भी कई बार तकनीकी गड़बड़ी के चलते ट्रेन लेट हो जाती है. बताया जाता है कि अगर कभी किसी स्टेशन पर ट्रेन कुछ सेकंड या मिनट के लिए लेट होती है तो यात्रियों की अगले स्टेशन पर दूसरी ट्रेन छूट जाती है जिससे कि उनकी देरी का फासला बढ़ जाता है. ऐसे में यात्री अपने ऑफिस के लिए लेट हो जाते है.

Photo : Dreamtime

परन्तु ऐसी स्थिति से निपटने के लिए जापानी रेलवे के ओर से यात्रियो को सर्टिफिकेट दिया जाता है. जापानी मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ये डिले सर्टिफिकेट हर यात्री को दिया जाता है. जब ट्रेन लेट होती है तो रेलवे का स्टाफ खड़ा हो जाता है और  वह यात्रियों को डिले सर्टिफिकेट देता है जिससे कि उस सर्टिफिकेट को यात्री अपने ऑफिस में दिखाकर कार्रवाई से बच जाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here