वो एक्टर, जिसका नाम तो ‘प्रेम’ है लेकिन परदे पर हमेशा प्रेम...

वो एक्टर, जिसका नाम तो ‘प्रेम’ है लेकिन परदे पर हमेशा प्रेम का दुश्मन बनकर आया

0
SHARE

23 सितम्बर को बॉलीवुड के बुजुर्ग अभिनेता प्रेम चोपड़ा का जन्मदिन होता है. वही प्रेम चोपड़ा, जिन्होंने अपना नाम करीब चार दशक पहले कुछ इस अंदाज़ से बताया था कि हिंदी सिनेमा के दर्शक आज तक नहीं भूले हैं. याद तो होगा, ऋषि कपूर और डिंपल कपाडिया की पहली फिल्म ‘बॉबी’ का वह डायलॉग – “प्रेम नाम है मेरा … प्रेम चोपड़ा!”

23 सितम्बर 1985 को लाहौर में जन्मे प्रेम चोपड़ा आज 82 साल के हो गए हैं. 50 साल से अधिक तो उन्हें फिल्मों में काम करते ही हो गए. बंटवारे के बाद उनका परिवार लाहौर छोड़कर शिमला आ गया था जहां उनकी परवरिश हुई. माता-पिता की इच्छा के विपरीत वे अपना एक्टिंग का शौक पूरा करने मुंबई आये और अपनी मेहनत के बल पर सफलता हासिल की.

प्रेम चोपड़ा ने अपने आधी सदी से भी अधिक लम्बे फ़िल्मी करियर में करीब 400 फिल्मों में काम किया. उन्होंने फिल्मों में अपने आपको एक ऐसे विलेन के रूप में स्थापित किया जिसके परदे पर आते ही दर्शक समझ जाते थे कि अब कुछ न कुछ गड़बड़ जरूर होगी. उनकी संवाद अदायगी भी सबसे जुदा थी. वे मुलामियत भरे अंदाज़ में चेहरे पर कुटिल मुस्कान के साथ जब डायलॉग बोलते थे तो देखते ही बनता था.

प्रेम चोपड़ा बॉलीवुड के उन खलनायकों में से एक हैं जिनके नाम सबसे ज्यादा रेप सीन आते हैं. उस जमाने में जब प्रेम चोपड़ा की खलनायकी शिखर पर थी, उनके किसी फिल्म में होने का मतलब होता था कि इस फिल्म में हीरोइन या हीरो की बहन का रेप जरूर होगा.

ऐसा नहीं कि प्रेम चोपड़ा शुरू से विलेन ही बनना चाहते थे. दरअसल वे आये तो हीरो बनने ही थे लेकिन चले नहीं. फिर ‘मदर इंडिया’ वाले महबूब खान ने उन्हें विलेन बनने की सलाह दी और बस उनकी ज़िन्दगी बदल गई. उन्होंने मॉडलिंग भी की है.

प्रेम चोपड़ा की शादी प्रेमनाथ की बहन से हुई. प्रेमनाथ की दूसरी बहन राजकपूर को ब्याही थीं. इस तरह प्रेम चोपड़ा और राजकपूर साढ़ू भाई थे. राजकपूर ने ही अपनी फिल्म ‘बॉबी’ में इन्हें लेकर वह डायलॉग बुलवाया था जिसने इनका नाम बच्चे बच्चे को याद करा दिया. जी हाँ, वह डायलॉग था, “प्रेम नाम है मेरा … प्रेम चोपड़ा.”

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY