यदि आप क्रिकेट देखते हैं तो बताईये इंडियन टीम के बीच में...

यदि आप क्रिकेट देखते हैं तो बताईये इंडियन टीम के बीच में हाथ में ट्रॉफी उठाये ये शख्स कौन है

0
SHARE

भारतीय टीम ने जब टी-20 सीरीज में ऑस्ट्रेलिया को क्लीन स्वीप किया और फोटो सेशन होने लगा तो मंच पर टीम के साथ सपोर्ट स्टाफ भी पहुँच गया. इसी दौरान ट्राफी एक दुबले पतले अनजान से शख्स के हाथ में थमा दी गई जो उपस्थित लोगों और फोटोग्राफर्स के मध्य आकर्षण का केंद्र बन गया. क्या आप जानते हैं कि ये शख्स कौन है ?

raghu-throw-down-assistant

चलिए हम बताते हैं.

ये हैं राघवीन्द्र, जिन्हें पूरी भारतीय टीम प्यार से रघु नाम से बुलाती है. रघु ही वो शख्स हैं जो अभ्यास सत्र के दौरान थ्रो-डाउन की जिम्मेदारी निभाते हैं अर्थात नेट्स में बल्लेबाजों को गेंदें फेंकते हैं. चाहे नेट्स पर गेंदबाज हों न हों, रघु लगातार घंटों तक गेंदें फेंकते रहते हैं और बल्लेबाजों को अभ्यास कराते रहते हैं.

raghu-throw-down-assistant-2

कर्नाटक के रघु कई साल पहले क्रिकेटर बनने का सपना लेकर मुंबई आये थे लेकिन कुछ ख़ास होता नजर नहीं आया तो हुबली चले गए और वहाँ कुछ क्लबों के लिए खेले. इसके बाद वे बेंगलुरु पहुंचे और वहां एक क्रिकेट इंस्टिट्यूट में कोच बन गए. वहीं से देखते देखते रणजी टीम के थ्रो-डाउन असिस्टेंट बन गए. 2008 में आख़िरकार उन्हें नेशनल क्रिकेट अकादमी में नौकरी मिल गई और कुछ ही समय में वो टीम इंडिया से जुड़ गए. सभी क्रिकेट खिलाड़ी रघु को अपने भाई की तरह मानते हैं और रघु भी अपनी ओर से उन्हें अभ्यास कराने में कोई कसर नहीं छोड़ते.

Source : Jagran

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY