ये बच्चे किसके हैं

ये बच्चे किसके हैं

0
SHARE
एक आदमी समंदर किनारे धूप में एक बड़े छाते के नीचे आराम से लेटा हुआ था.
तभी दो शरारती बच्चे दौड़ते हुए उसके पास आये.
एक ने छाता गिरा दिया और दूसरे ने उसके ऊपर रेत उछाल दी.
वह आदमी गुस्से से उन्हें मारने दौड़ा तो दोनों बच्चे तेजी से भागकर दूर खड़े एक आदमी के पीछे छुप गए.
आदमी – क्या ये दोनों शैतान बच्चे तुम्हारे हैं? इन्होंने मेरा छाता तोड़ दिया और मेरे ऊपर रेत उछालकर भाग आए हैं !
दूसरा आदमी (बड़े प्यार से) – नहीं भाई साहब ये मेरे बेटे नहीं हैं, ये दोनों तो मेरे भतीजे हैं. मेरे दोनों बेटे तो उधर आपके स्कूटर की हवा निकाल रहे हैं … !!!

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY