घायल सड़क पर तड़पता रहा, मंत्रीजी का काफिला बगल से गुजर गया

घायल सड़क पर तड़पता रहा, मंत्रीजी का काफिला बगल से गुजर गया

0
SHARE

आंकड़े बताते हैं कि सड़क दुर्घटनाओं में सबसे ज्यादा मौतें समय पर इलाज न मिल पाने की वजह से होती हैं. सरकार भले कितना ही प्रचार करे कि दुर्घटना में घायल व्यक्ति की मदद करें लेकिन दुखद सच्चाई ये है कि दुर्घटना को अनदेखा कर के आगे बढ़ जाने की प्रवृत्ति हमारे देश में बहुत है. यह स्थिति दुखद होने के साथ-साथ शर्मनाक भी हो जाती है जब कि अनदेखा करके जाने वाला व्यक्ति कोई आम आदमी नहीं, बल्कि मंत्री हो.

तेलंगाना से ऐसी ही एक हैरान कर देने वाली तस्वीर वायरल हो रही है जिसमें एक घायल व्यक्ति सड़क पर पडा हुआ है और बगल से मंत्रीजी का काफिला उसे किनारे करता हुआ गुजर रहा है.

वाकया तेलंगाना के जयशंकर भुपालापल्ली जिले का है जहां रविवार की दोपहर पालमपेट गांव के नल्लाकलुवा क्रॉसरोड पर एक ट्रक ने बाइक सवार को टक्कर मार दी. अपने दो दोस्तों गोपी और सतीश के साथ रमप्पा मंदिर जा रहे तदुरी मधुसूदन चैरी बाइक से गिर गए.

टक्कर इतनी जोरदार थी कि मधुसूदन चैरी की मौके पर ही मौत हो गई जबकि गोपी और सतीश घायल हो गए. टक्कर के बाद ठीक उसी समय जब सड़क पर पड़े मधुसूदन चैरी और अन्य घायलों को शीघ्र से शीघ्र अस्पताल पहुँचाने के लिए पास के गाँव के लोग वाहन की तलाश कर रहे थे तभी जनजाति कल्याण मंत्री अज़मीरा चंदुलाल का काफिला वहाँ से गुजरा.

लोग यह देखकर हैरान रह गए कि मंत्री का काफिला घायल को देखने के बावजूद बिना रुके किनारे से गुजरता चला गया. उनके अपने ही क्षेत्र के निर्वाचित प्रतिनिधि ने एक मिनट के लिए गाड़ी रोककर यह पूछने तक की जहमत नहीं उठाई कि यहाँ आखिर हुआ क्या है ?

चैरी तो खैर नहीं बच सके, लेकिन वहाँ मौजूद लोगों में से किसी ने इस घटना की तस्वीर खींच कर सोशल मीडिया पर डाल दी. मामला तूल पकड़ा तो मंत्री जी ने सफाई दी – “मैं अपने एक रिश्तेदार के साथ फ़ोन पर बात कर रहा था, मुझे वहाँ रुकना चाहिए था लेकिन मैं काफी जल्दी में था.”


(Source : HT)

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY