8वीं फेल है पर अपनी कंपनी के मालिक है और इनकी क्लाइंट...

8वीं फेल है पर अपनी कंपनी के मालिक है और इनकी क्लाइंट है रिलायंस

0
SHARE

त्रिशनीत अरोरा नामक एक लड़के की कहानी आजकल सोशल मीडिया पर छाई हुई है. और इसके पीछे वजह ये है कि यह लड़का स्कूल ड्रॉपआउट है लेकिन आज अपने बलबूते पर करोड़पति है और एक कंपनी का मालिक है. कंपनी भी कोई ऐसी वैसी नहीं, जिसकी क्लाइंट देश की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस भी है. इनकी कंपनी के 4 ऑफिस भारत में और एक दुबई में है.

और हाँ, ये 8वीं फेल हैं और इनकी उम्र अभी मात्र 23 साल है.

कुछ साल पहले एक फिल्म आई थी, ‘3 इडियट्स’ जिसका लव्वोलुआब कुल मिलाकर यह था कि आपका बच्चा जो करना चाहता है उसे वह करने दीजिये, उसके ऊपर अनावश्यक अपनी इच्छा मत थोपिए. कुछ ऐसी ही कहानी है त्रिशनीत अरोरा की, जो कहते हैं कि आज वह जो भी कुछ हैं अपने पिता की वजह से हैं.

त्रिशनीत अरोरा का मन बचपन से ही स्कूली किताबों में कम और खिलौनों और गैजेट्स में ज्यादा लगता था. वह अक्सर खिलौनों और गैजेट्स को खोल लेते कि आखिर ये काम कैसे करते हैं. इसके अलावा कंप्यूटर पर गेम खेलना उनका पसंदीदा काम था. ये सब देखकर हर पिता की तरह त्रिशनीत के पिता को भी उनके भविष्य के बारे में चिंता होती थी, कि ये पढ़ेगा नहीं तो आगे क्या करेगा.

उन्होंने अपने कंप्यूटर में पासवर्ड भी लगाया पर त्रिशनीत ने बड़े शातिराना ढंग से उसे तोड़कर कंप्यूटर खोल लिया. पिता ने जब यह देखा तो उन्हें लगा कि बच्चे का रुझान पढ़ाई में न होकर किसी और दिशा में है. उन्होंने त्रिशनीत को एक नया कंप्यूटर ही लाकर दे दिया. बस यहीं से पढ़ाई छूट गई और त्रिशनीत कंप्यूटर के कीड़े बन गए.

आज त्रिशनीत अरोरा देश के जानेमाने एथिकल हैकर हैं. उन्होंने कंप्यूटर कोडिंग और हैकिंग में ऐसी महारत हासिल की कि 19 का होते होते तो उन्होंने अपनी खुद की कंपनी खोल ली, ‘TAC Security Solutions’. उनकी ये कंपनी दूसरी कंपनियों के कंप्यूटर्स को साइबर खतरों और हैकिंग से बचाती है. आप इसी से अंदाजा लगा सकते हैं कि उनकी क्लाइंट कंपनियों में रिलायंस भी शामिल है. इसके अलावा वे देश की सुरक्षा एजेंसियों के अधिकारीयों को भी साइबर खतरों से बचने के लिए ट्रेनिंग देते हैं.

उनकी कहानी ‘ह्यूमन्स ऑफ़ बॉम्बे’ नामक फेसबुक पेज पर शेयर की गई है जिसमें वे कहते हैं कि, ‘मेरी सफलता में मेरे पिताजी का बहुत बड़ा हाथ है. स्कूल में फ़ैल होने के बाद भी उन्होंने कभी मुझ पर पढ़ाई के लिए दवाब नहीं बनाया बल्कि मैं जो कर रहा था उसमें समर्थन किया.’

इस फेसबुक पेज के अलावा त्रिशनीत का नाम फोर्ब्स जैसी मैगज़ीन में भी आ चुका है और ‘The GQ’ नामक मैगज़ीन ने उन्हें देश के 50 सबसे प्रभावशाली युवाओं में शामिल किया है.

(Source : Financial Express)

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY